10 points only #NarendraModi #PopulationControl #Owaisi#SSC#UPSC

अकबर बीरबल की कहानी hindi story

       अकबर बीरबल की कहानी hindi story

        नोट - "वीडियो देखने के स्थान पर पढ़ने से आपके मस्तिक का विकास अधिक तेज़ी से होता है। " 

          भारत में अंग्रेजो के शासन काल से पहले मुगल साम्राज्य स्थापित था मुगल साम्राज्य में अकबर को कोन नहीं जानता ? 
           अकबर के नौ रत्नो में एक थे "बीरबल ",  बीरबल की बुद्धि का कोई जवाब नहीं था। बादशाह अकबर बीरबल के साथ मित्रों के जैसा व्यवहार था। बादशाह अकबर बीरबल से कठिन से कठिन सवाल पूछते थे। बीरबल बड़ी होशियारी से सभी सवालों के जवाब देते थे। 

          एक बार बादशाह अकबर दरबार में बैठे थे। उन्होंने सोचा की बहुत समय हो गया चलो आज बीरबल से कुछ ऐसा पूछा जाये जिसका जवाब बीरबल आसानी से न दे पाये। लेकिन बादशाह को कोई ऐसा सवाल नहीं सुझा इस प्रकार काफी दिन बीत गए। 



          एक बार बीरबल कही जा रहे थे। उन्हें रास्ते में एक गरीब बालक मिला जो  भीख मांग कर जीवन बिताता था। वह सड़क के किनार बैठा हुआ एक एक चना बड़े आराम से खा रहा था। बीरबल उसके पास गया और उसे से पूछा तुम इस प्रकार एक-एक कर के चना क्यों खा रहे हो। 

          बच्चे ने बड़े आत्म विश्वास से कहा ,"आज की भिक्षा में मुझे यही थोड़े से चने मिले है। यदि में इन्हे एक साथ खा जाऊँगा तो भूख शांत तो नहीं होगी उलटा मुझे तंग करेगी। इसलिए एक-एक कर दाना खा कर पानी पी लेता हु। इस से पेट को सहारा मिल जाता है। 
           बच्चे के इस बेबाक़ उत्तर को सुन कर बीरबल बड़ा प्रसन्न हुआ।  उन्होंने सोचा, लड़का गरीब होने के साथ अनाथ भी है परन्तु है बुद्धिमान। भीख मांग कर निर्वाह करता है अतः इस अपने घर ले जाना चाहिए। यहाँ सोच कर बीरबल उस लड़के को आपने घर ले आया और उसका अपने पुत्र के जैसा पालन पोषण करने लगा। थोड़े ही समय में अच्छा खान पान से  लड़का हष्ट-पुष्ट हो गया। वह भी बीरबल के समान ही कठिन से कठिन सवालो को बड़ी सरलता से हल केर देता था। 

          एक बार बादशाह अकबर ने बीरबल से एक साथ तीन सवाल पूछे ,
          ईश्वर कहा रहता है ?
          ईश्वर कैसे मिलता है ?
          ईश्वर क्या करता है ?

          बीरबल के लिए तीनो सवालो का तत्काल जवाब देना संभव नहीं था। इसलिए उन्होंने कहा , "जहाँपनाह। अपने काफी सोच विचार के बाद सवाल पूछे है। अतः मुझे भी जवाब देने के लिए कुवह समय तो मिलन ही चाहिए। " बादशाह ने बीरबल की बात मान ली और एक सप्ताह का समय दिया। 

          बीरबल घर आये तो उनके दिमाग में तीन सवाल चक्कर काट रहे थे। लेकिन उस समय उनको जवाब नहीं सूझ रहे थे। वे चुप चाप चारपाई पर लेट गए और सोचने लगे। 

          वह लड़का जिसे बीरबल साथ लाये थे। काफी देर से बीरबल को देख रहा था। अब वह उनको प्यार से पिता जी कहता था। उसने पूछा, "पिता जी आप कुछ परेशान दिखाई पड रहे है, कृपया मुझ बताइए , आपकी परेशानी का क्या कारण है?"
            Interesting facts of mind in hindi मानव मस्तिष्क के अद्भुत तथ्य

           पहले तो बीरबल ने कुछ बताया नहीं मगर बच्चे की जिद के आगे बीरबल झुक गये। उन्होंने कहाँ,"आज बादशाह ने एक साथ मुझे से तीन सवाल पूछ लिये जिनका जवाब में नहीं दे सका। वे सवाल तुम्हारी समझ के बाहर है। अतः बताने का कोई लाभ नहीं।" लड़के ने जींद करते हुऐ कहा बताइये ना पिता जी , शायद में उन सवालो के जवाब दे सकू। कभी कभी जो काम छोटे केर सकते है वह बड़े नहीं कर सकते। " 

          बीरबल ने बालक को तीन सवाल बताये। 
          सवाल सुन के बालक  आत्मविश्वाश से मुस्कराते हुऐ कहा,"पिता जी ये भी कोई सवाल है आप चिंता न कीजिये। आप बादशाह से बस इतना कह दीजिये की इनका जवाब तो मेरा पुत्र ही दे देगा। आप मुझ अपने साथ ले चले। "

           लड़के ने जिस आत्मविश्वास से ये बात कही थी उसे देख केर बीरबल को विश्वास हो गया था की लड़का सवालो के जवाब दे देगा। 

          अगले दिन बीरबल दरबार में गए तो लड़के को अपने साथ ले गए। दरबार सजा हुआ था। सभी बीरबल का जवाब सुने को बेक़रार थे। बादशाह ने मुस्कुरा के पूछा,"बीरबल,सवालो के जवाब लाए हो?। 

          बीरबल ने बड़े आत्मविश्वास से कहा,"जहाँपनाह ! ऐसे सवालो के जवाब तो मेरा यह लड़का ही दे देगा। आप इस से अपने तीनो सवाल पूछ सकते है। "
           Differences between women and men in hindi पुरुष और महिला के बीच अंतर
अकबर -बेटा ! तुम मेरे तीनो सवालो के उत्तर दोगे ?

लड़का -जहाँपनाह ! मै अवश्य कोशिश करूँगा। 

अकबर -ठीक है , फिर मेरे पहले सवाल है की ईश्वर कहाँ रहते है ?

लड़का -महाराज, थोड़ा दूध मँगवाए। 

( दूध लाया गया। लड़के ने उसमे शक़्कर मिलाई और बादशाह को दिया। 

लड़के ने पूछा,"जहाँपनाह ! पीकर बताइए दूध का स्वाद कैसा है ?" )

अकबर -( दूध पीकर ), मीठा। 

लड़का -पर बादशाह सलामत ,बताइए इसमें शक़्कर कहाँ है ?

अकबर -शक़्कर तो घुल गई, सारे दूध में शक़्कर है। 

लड़का -हुज़ूर ! जैसे दूध में शक़्कर मिली है उसी प्रकार ईश्वर संसार की सभी वस्तुओ में विराजमान रहते है

         बादशाह ने लड़के को शाबाशी और उस से दूसरा सवाल पूछा,"ईश्वर कैसे मिलता है ?"

लड़का -महाराज, थोड़ा दही मँगवाए।
                     ( दही लाई गई। )

लड़का -जहाँपनाह ! बताइए, इसमें मक्कन है की नहीं ?\

अकबर -मक्खन तो है। 

लड़का -पैर मक्खन है कहा ?\

अकबर -वहाँ ऐसे नहीं दिखता। वह तो दही को बिलोने पर ही निकलता है 

लड़का -आपके दूसरे सवाल का उत्तर यही है जिस प्रकार दही को बिलोने से मक्खन मिलता है उसे प्रकार ध्यान लगाने से और मन एकागर करने से ईश्वर की प्राप्ति होती है। 

          अकबर लड़के की बुद्धिमत पैर दंग रह गए। उन्हें उम्मीद नहीं थी  छोटा बालक  प्रकार से सवालो का उत्तर देगा। कुछ देर रुक कर उन्होंने तीसरा सवाल पूछा। 

अकबर -ईश्वर क्या करता है ?"
          Interesting facts of mind in hindi मानव मस्तिष्क के अद्भुत तथ्य
लड़का -महाराज ! माफ़ कीजिए,इस सवाल का उत्तर देना हर एक के बस की बात नहीं है। इस सवाल का जवाब तो केवल गुरु ही दे सकता है। यदि आप मुझे अपना गुरु स्वीकारे तो उत्तर मिल सकता है। 
अकबर -ठीक है! मन लिया कि तुम गुरु में शिष्य।

लड़का -श्रीमान ! गुरु का स्थान ऊचा होता है और शिष्य का निचे। यदि आप ने मुझ गुरु मन  लिया है तो आप सिंहासन  उतर कर नीचे आसन पर बैठने का कष्ट करे। 

           अकबर मुस्कराये और सिंहासन से उतरकर नीचे आसन पैर बैठ गए। लड़का शीघ्रता से सिंहासन पर बैठकर बोला,"जहाँपनाह ! आपको अपने तीसरे सवाल का जवाब मिल गया होगा। "

          बादशाह चुप रहे।  उनकी समझ में नहीं आ रहा था। सभी मंत्री और बीरबल भी कुछ न समझ पाये। लड़का थोड़ी देर रुका फिर उसने कहा," बादशाह सलामत ! ईश्वर यही करता है। आप इस सिंहासन के मालिक है और अब आप नीचे आ बैठे है और में गरीब लड़का बादशाह के सिंहासन पैर बैठा हूँ। ईश्वर राजा को भिखारी बनाकर जमीन पैर और कभी भिखारी को राजा बनाकर सिंहासन पैर बैठा सकता है। "
          Advantages of drinking water in hindi पानी के 51 रोचक तथ्य
         बादशाह सवालो के जवाब सुनकर बहुत खुश हुए। उन्होंने लड़के की  बुद्धि की प्रशंसा की और उसे अनेको इनाम दिये। 

      

          आपको अकबर बीरबल की कहानी  कैसी लगी कमेंट कर के जरूर बताए। और अपने दोस्तों के साथ शेयर जरूर करे। हो सकता है की ये कहानी किसी के काम आ जाए।  " पढ़ते रहे बढ़ते रहे  "  

टिप्पणियाँ