10 points only #NarendraModi #PopulationControl #Owaisi#SSC#UPSC

सही समय moral stories in hindi

moral stories in hindi ,

नोट - "वीडियो देखने के स्थान पर पढ़ने से आपके मस्तिक का विकास अधिक तेज़ी से होता है। "

What is the right time to do a work ? 
Who should be listened and who should be avoided ? 
Which is the most important task?


बहुत पहले एक राजा राज्य करता था। वह बहुत समझदार और धुन का पक्का था। वह जो सोचता उसे हासिल कर ही लेता था।
 Advantages of drinking water in hindi पानी के 51 रोचक तथ्Interesting facts of mind in hindi मानव मस्तिष्क के अद्भुत तथ्य
एक दिन उसके मन में तीन सवाल उठे। 

पहला सवाल -किसी कार्य को करने का सही समय कौन सा होता है ? 

दूसरा सवाल -किसकी बात सुनी चाहिये और किसे टालना चाहिये ?

तीसरा सवाल - सबसे आवश्यक कार्य कौन सा है ?
 व्यवसाय क्या है /what is business in hindi

अपने तीनो सवालो के जवाब जाने के लिए राजा ने अपने राज्य में घोषणा करवा दी। जो भी इन सवालो के जवाब देगा उसे उचित इनाम दिया जायेगा।

यह घोषणा सुने के बाद लोग दूर दूर से राजा के पास आने लगे।

पहले सवाल के जवाब में लोगो ने कहा , पहले काम का समय निश्चित करना चाहिये फिर काम को करना चाहिये।

किसी ने कहा की काम का समय निश्चित करना सही नहीं है लेकिन फालतू के काम में समय गवाना भी सही नहीं है। काम सामने हो उसे करना उचित होगा।

इसी प्रकार दूसरे सवाल के भी कई जवाब थे कोई कुछ कहता तो कोई कुछ और।

पहले के सवालो के जवाबो के जैसे ही तीसरे सवाल के जवाब थे।

राजा को कोई भी जवाब सही नहीं लगा।

राजा को पता था की पास के जंगल में एक साधु बहुत समय से तप कर रहा है  अपने सवालो के जवाब जाने के लिए राजा एक आम आदमी का रूप बनाकर कुछ सेनिको के साथ जंगल की और चल दिया।

साधु की कुटिया से कुछ दुरी पर राजा ने अपने सेनिको को रोक कर अकेला ही आगे चल दिया 

साधु कुटिया के बाहर कुदाल से जमींन खोद रहा था।

साधु के पास जाकर राजा ने अपने तीनो सवाल साधु से पूछे।

साधु ने कोई उतर नहीं दिया। साधु अपने काम में लगा रहा।
 चार ब्राह्मण hindi
 सबसे बुद्धिमान कौन ? short story in hindi
अकबर बीरबल की कहानी
   "समझ " हिंदी कहानी

राजा कुछ देर इन्तजार करने के बाद पुनः साधु से बोला मुझे मेरे तीन सवाल के जवाब जाने है क्या आप मुझे  सकते है ?

साधु ने कोई उतर नहीं दिया। साधु अपने काम में लगा रहा।

राजा ने देखा की साधु कुछ देर काम कर के बहुत थक जा रहा था।

राजा ने साधु से कहा - लाइए ये कुदाल मुझे दे दीजिये। में ये काम कर देता हूँ। 

साधु ने चुप चाप कुदाल राजा को दे दी

राजा काम करता रहा।

दो घण्टे बित चुके थे। शाम भी हो चुके थी।

राजा ने पुनः पूछा - क्या आप मेरे सवालो के जवाब जानते है यदि नहीं , तो बता दे में वापस चला जाऊंगा।

अचानक वह एक आदमी खून से लत पत आया और गिर कर बेहोश हो गया।

राजा और साधु उसे कुटिया में ले गए। राजा ने उसकी मरहम पति की। जख्म बहुत गहरा था। खून रुक ही नहीं रहा था। राजा ने कई बार पटी बदली , बार बार पटी बदलने से खून रुक गया।

ये सब काम कर के राजा बहुत थक गया था इस लिए राजा वही सो गया। Advantages of drinking water in hindi पानी के 51 रोचक तथ्य
    Interesting facts of mind in hindi मानव मस्तिष्क के अद्भुत तथ्य

सुबह राजा जब उठा तो उसने उस आदमी को देखा।

आदमी ने राजा से कहा - मुझ माफ़ कीजिए राजा जी
राजा - में तुमको नहीं जनता फिर तुम मुझसे माफ़ी किस लिए मांग रहे हो?

आदमी - आपने मेरे भाई की सभी सम्पति पर कब्ज़ा कर लिया था। और उसे दण्ड भी दिया था। उसी का बदला लेने के लिए , में आपको मरने के उद्देश्य से यहाँ आया था। रस्ते में आपके सेनिको ने मुझे पहचान लिया और मेरी ये दसा कर दी।

राजा ने कहा कोई बात नहीं तुम अब आराम करो में तुम्हारी देख रेख का बन्दों बस करवाता हूँ। यहाँ कह कर  राजा बाहर साधु के पास चला गया। राजा ने साधु से पुनः पूछा।

साधु - राजन आपको आपके सवालो के जवाब मिल चुके है।

राजा को कुछ समझ नहीं आया।

साधु - जब तुम मेरी क्यारिया तैयार केर रहे थे यदि तुम ऐसा न करते तो रस्ते में वह आदमी तुम पर हमला कर तुमको मर देता।  जब तुम क्यारिया तैयार केर रहे थे वही सही समय था। तब सबसे महत्व का आदमी में था। उस समय मेरा काम सबसे जरुरी काम था।

जब वह आदमी हमारे पास आया तो तुम ने उसकी मरहम पट्टी की वही सबसे सही समय था अगर तुम ऐसा न करते तो वह मर जाता।

इस लिए उस समय वह सबसे महत्त्व का आदमी था। तुम ने उस के लिए जो भी किया उस समय वही तुम्हारे लिये सबसे जरुरी काम था।

याद रखना ,
सबसे सही समय वही है जब हमारे पास किसी भी तरह की शक्ति या क्षमता होती है।

सबसे महत्व का आदमी वही होता है जिसके साथ हम होते है अर्थात जिसे हमारी क्षमता के सहयोग की आवश्यकता है।

सबसे जरुरी काम है, अपने सामने पड़े संकट में पड़े आदमी की सहायता करना , व् अपनी क्षमता का सदुपयोग करना।

हमें यहाँ जीवन इसलिए ही मिला है की हम दुसरो के काम आये। इसी में जीवन की सफलता है। " इतना कह कर साधु चुप हो गया।

 चार ब्राह्मण hindi story

 बुद्धिमान कौन ? short story in hindi

  अकबर बीरबल की कहानी

   "समझ " हिंदी कहानी

                                                     

राजा ने साधु को प्रणाम किया और महल की और चल दिया।

आपको ये कहानी कैसी लगी कमेंट कर के जरूर बताए। और अपने दोस्तों के साथ शेयर जरूर करे। हो सकता है की ये कहानी किसी के काम आ जाए।  " पढ़ते रहे बढ़ते रहे  "



टिप्पणियाँ